मॉब लिंचिंग… झूठी सूचना है… हो ही नहीं सकती, पुलिस मुस्तैद रहती है

दोस्तों नमस्कार, देखिए हमारी पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद रहती है सजग रहती है और सतर्क रहती है। इस पर कोई भी टीका टिप्पणी करना और खामखा कोई आरोप लगाना सरासर गलत और नाजायज व नाइंसाफी है। … यह टीवी चैनल और अखबार वाले झूठ बोल रहे हैं की हाईवे से गोवंश सप्लाई होता है।… यह जो शाहजहांपुर में हुआ यह आपने सही नहीं पढ़ा… दरअसल वह लोग तो खाली गाड़ी लेकर के जा रहे थे और यह तो जनता है जिसने उस गाड़ी को रोक करके उसमें गोवंश भर दिया और बाद में वाहन चालकों की पिटाई कर दी।… हमारी पुलिस तो मुस्तैद रहती है साहब! नेशनल हाईवे से एक भी ट्रक,  पिकअप या कोई भी वाहन में गोवंश तो क्या कोई भी पशुधन का परिवहन नहीं होने देती। आप लोग खा-म-खा आरोप लगाना बंद कीजिए और पुलिस को अपना काम करने दीजिए। यह जो जनता है जिसने यह मोब लिंचिंग की घटना को अंजाम दिया है उनमें से एक -एक को ढूंढ ढूंढ कर के निकालेंगे… बहरोड के आस पास के गांव वालों को तो पता होगा ….शाहजहांपुर वालों को भी पता लग जाएगा। इसलिए मैं फिर कह रहा हूं, आपको आगाह कर रहा हूं … कि मंगलवार, गुरुवार और शनिवार तो बिल्कुल भी आप हाईवे की किसी गाड़ी पर नजर मत डाला कीजिए।  और यह आपका काम भी नहीं है। यह हमारी पुलिस का काम है और पुलिस अपना काम मुस्तैदी से कर भी रही है। ….जरा आप खुद सोचिए,  जयपुर से हरियाणा बॉर्डर तक कुल कितने थाने हैं… अब बताइए, इतने थाने होने के बावजूद क्या कोई वाहन… अवैध शराब, पशुधन या कोई दो नंबरी सामान लेकर जा सकता है।  नहीं, कभी नहीं… यह हो ही नहीं सकता।  फिर भला आप कैसे आरोप लगा सकते हैं कि यह मॉब लिंचिंग तो प्रशासन की, पुलिस की लापरवाही की वजह से हो गई।…  छोड़िए, इन सब बातों को… आपका काम यानी आम जनता का काम है कि सुबह उठिए, नहाना-धोना कीजिए … खाना खाइए… अपने काम पर जाइए ….शाम को चुपचाप आइए… खाना खाइए और सो जाइए। धन्यवाद।  बाकी अगले अंक में। ( अच्छा लगे तो दूसरों को भी आगाह करने हेतु शेयर कर दीजिएगा।)  ब्लॉक भी देखें…http://www.bllogvani.blogspot.com

@Vikas Verma

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *