मुद्दे गिनाए, तथ्य रखे और कहा मैं विकास के लिए प्रयासरत, पर बीजेपी नहीं चाहती कोटपूतली में विकास हो- राजेन्द्र यादव

न्यूज चक्र। कोटपूतली। विधायक राजेन्द्र सिंह यादव ने रविवार दोपहर अपने कार्यालय पर एक प्रेस कांफ्रेस आयोजित की। यादव ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता व जनप्रतिनिधि विकासकार्यों में अड़गा लगा रहे हैं। विधायक ने शहर में सिविर लाईन, पावर हाउस, बस स्टैण्ड जैसे मुद्दे गिनाते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ने जानबूझकर इन मुद्दों पर अड़गा लगाया है।
विधायक ने हाल ही खोले गए बानसूर कट एवं इसको लेकर पुलिया विस्तार संघर्ष समिति के द्वारा किए गए धरना व प्रदर्शन पर भी सवाल उठाया है। विधायक ने एक सवाल के जवाब में कहा कि‘ मेरे फोन पर बात होने के बाद भी संघर्ष समिति ने मुझसे मिलना या मुझे बुलाना उचित नहीं समझा, जबकि दिल्ली सांसद महोदय के कार्यालय तक संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने चक्कर लगाए, जो कि बीजेपी से मिलीभगत की ओर इशारा करते हैं।’
विधायक ने पुलिया निर्माण में ’धांधली’ के आरोपों पर कहा कि ‘ पुलिया निर्माण कार्य 7 दिसम्बर 2009 को शुरू हुआ था, जो वर्ष 2014 में 21 जुलाई को पूरा हुआ। यह पुलिया पूर्व में 9 स्पान 31 मीटर का था, जो 23 जून 2010 को किए गए एकमात्र संशोधन में 8 स्पान 31 मीटर प्रत्येक बढ़ाया गया। ऐसे में पुलिया छोटा किए जाने का आरोप सरासर गलत है।

तत्कालीन विधायक रामस्वरूप कसाना पर भी आरोप- विधायक यादव ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि पुलिया निर्माण एवं सर्विस लाइनों का पूरा ना होना तत्कालीन विधायक की शिथिलता हैं। तत्कालीन विधायक ने समय रहते निर्माण कार्य के दौरान आने वाली बाधाओं को हटवाते तो निर्माण कार्य समय पर पूरा हो सकता था।
विधायक ने यह भी बताया कि वे अपनी विधानसभा के पहले विधायक हैं जिसने समय रहते अपना पूरा बजट विकास कार्यो पर खर्च किया हैं, और सबसे ज्यादा विकास कार्य करवाए है। विधायक ने कहा कि उनकी योजना शहर में दो पावर हाउस, सिविरेज, सदर थाना व बीडीएम अस्पताल को चिकित्सा में आत्मनिर्भर बनाने की है, जिसके लिए वे प्रयासरत हैं।
प्रेस कांफ्रेस का विडियो देखने के लिए यहां क्लिक करे…

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *