भीषण गर्मी को देखते हुए पेयजल समस्या समाधान के लिए 25 लाख रूपये अपर्याप्त – कर्नल राज्यवर्धन

न्यूज चक्र, डेस्क। कोटपूतली। पूर्व केन्द्रीय मंत्री और सांसद जयपुर ग्रामीण कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने आज वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) मीटिंग की अध्यक्षता की। उन्होने कहा कि राज्य सरकार द्वारा विधायकों को अपने क्षेत्र में पेयजल सम्बन्धित कार्य करवाने के लिए 25 लाख रूपये दिए गये है, भीषण गर्मी को देखते हुए यह राशि अपर्याप्त है। उन्होंने मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि जिस प्रकार कोरोना काल में विधायक कोटे से चिकित्सा सुविधाओं के लिए राशि खर्च की जा सकती है उसी प्रकार से विधायकों को अपने कोटे से पेयजल के लिए भी राशि खर्च करने की छूट दी जाए।

कर्नल राज्यवर्धन ने गर्मी के मौसम में क्षेत्र में बढ़ती पेयजल समस्याओं पर नाराजगी जताते हुए कहा कि अगर इच्छा शक्ति हो तो सीमित साधनों से भी अच्छा कार्य किया जा सकता है। सभी को पता है कि मई-जून के महिने में अधिक गर्मी होती है और उस समय पानी की सबसे अधिक आवश्यकता होती है इसलिए इस समय के लिए प्लानिंग पहले ही होनी चाहिए और उससे जनप्रतिनिधियों को भी अवगत करवाया जाए जिससे कार्य में पारदर्शिता आए। उन्होंने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को 10 दिनों में क्षेत्र में पेयजल की स्टेटस रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए है जिसमें क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था के मौजूदा हालात और विभाग द्वारा करवाए जाने वाले कार्यो के लाॅग टर्म और शाॅर्ट टर्म प्लान की जानकारी हो। रिपोर्ट में उन्होंने विभाग से पृथ्वीराज नगर को बीसलपुर से जोड़ने की योजना की प्रगति के बारे में भी जानकारी मांगी है।


कर्नल राज्यवर्धन ने कहा कि अधिकारी अपने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों से परामर्श करें और कार्य करने में आ रही कठिनाईयों में उनका सहयोग लेवें। उन्होने टैक्नोलजी का उपयोग करते हुए अधिकारियों को व्हाट्स अप गु्रप बनाने का भी सुझाव दिया जिससे प्रत्येक ग्राम पंचायत के सरपंच को यह जानकारी मिलती रहे कि उसके क्षेत्र में कब और कितने पानी के टैंकर भिजवाए जा रहें है।
कर्नल राज्यवर्धन ने इस भीषण गर्मी में ग्रामीण इलाकों में बिजली की सुचारू व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए साथ ही बिजली के बिलों को लेकर जनता में जो भ्रम बना हुआ है उसे दूर करने के लिए विभाग को कहा है।

कर्नल राज्यवर्धन ने प्रवासी श्रमिकों के टैस्ट, क्वारंटीन करने, उनकी माॅनिटरिंग करने के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि प्रवासियों की जांच में देरी ना की जाए। उन्होंने अब तक आए और शेष आने वाले प्रवासियों के सम्बन्ध में भी जानकारी ली। कर्नल राज्यवर्धन ने प्रशासनिक अधिकारियों, चिकित्साकर्मियों, पुलिसकर्मियों एवं सफाईकर्मियों सहित सभी कोरोना योद्धाओं को कोरोना काल में अच्छा कार्य करने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि अभी यह लडाई समाप्त नही हुई है हमें और मेहनत करनी पडेगी।

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) मीटिंग में जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा, अजमेर सांसद भागीरथ चैधरी, दौसा सांसद जसकोर मीणा, अनेक विधायक गण सहित कलेक्टर जयपुर, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, विद्युत विभाग के अधिकारी आदि भी उपस्थित थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *