आइये वर्ष 2020 का स्वागत करें और कुछ नया सीखें. सीखिए रसोई से जुड़ी खास बातें

Happy New Year 2020. Best wishes for every New Day 2020. 

नये साल का पहला दिन…

नया साल एक नई शुरूआत को दर्शाता है और हमेशा आगे बढ़ने की सीख देता है। पुराने साल में हमने जो भी किया, सीखा, सफल या असफल हुए उससे सीख लेकर, एक नई उम्मीद के साथ आगे बढ़ना चाहिए। जिस प्रकार हम पुराने साल के समाप्त होने पर दुखी नहीं होते बल्‍कि नए साल का स्वागत बड़े उत्साह और खुशी के साथ करते हैं, उसी तरह जीवन में भी बीते हुए समय को लेकर हमें दुखी नहीं होना चाहिए। जो बीत गया उसके बारे में सोचने की अपेक्षा आने वाले अवसरों का स्वागत करें और उनके जरिए जीवन को बेहतर बनाने की कोशिश करें।
आइये वर्ष 2020 का स्वागत करें और कुछ नया सीखते हैं.

दोस्तों,  हम भारतीय तीनों समय का भोजन बनाते हैं.  विदेशों की तरह किसी एक समय को हम नहीं चुन सकते, लेकिन दौड़ भाग के बढ़ जाने के कारण हम भी अस्वस्थ जीवनशैली की ओर बढ़ चले हैं.  बावजूद इसके कुछ उपाय अपनाकर हम अपने ताजा भोजन के परंपरा को जारी रख सकते हैं.  इसके लिए हमें सिर्फ सैफ वाली शैली अपनानी होगी, जो व्यवस्थित रसोई का ही दूसरा नाम होता है.

हम क्या करें-  बाजार से सब्जियां लेकर आए उसी वक्त उन्हें छांट कर अलग कर ले, पत्तेदार सब्जियां टोकरी में रखे.  पानी निथर जाने पर साफ किचन बॉक्स में भर कर फ्रिज में रखे. फूलगोभी के बड़े टुकड़े काटकर,  टमाटर, गाजर आदि को धोकर रख दें और मटर छील कर डिब्बे में रखकर मेज पर रख दें। दोस्तों,  खास बात यह है कि सब्जी और फल लाने का दिन ऐसा रखे कि यह सब करने के लिए आपके पास समय हो.  ऐसा करने से हर हफ्ते अलग तरह के व्यंजन बनाने में भी मदद मिलेगी क्योंकि साल में 12 महीने होते हैं इसलिए आप कुल मिलाकर 50 तरह के व्यंजन का मजा तो आप ले सकते हैं।
आपको यह ध्यान रखना होगा कि सब्जियों के बहुत बारीक टुकड़े करके कई दिनों तक रखने से उनके पोषक तत्व प्रभावित होते हैं इसलिए मोटे टुकड़ो मे रखे और बनाते समय बारीक काट लें जब व्यंजन बनाने जाए तो उसे जुड़ी सब्जी ही नहीं मसाले भी सामने निकालकर रसोई के प्लेटफार्म पर रख ले. हरी मिर्च और धनिया भी पहले से काटकर अपने कटोरी में रखें. सब्जियां जरूरत के हिसाब से काटकर एक बड़ी थाली में भी रख सकते हैं.  इसके बाद ही पकाने के लिए बर्तन आज पर रखें। मसालों को निकाल कर अलग रखने से मात्रा सही बनी रहती है।

यह भी देखें…

तो वर्ष 2020 की शुरुआत में यह थी रसोई से संबंधित जानकारी अगले अंक में एक नए विषय के साथ आपसे फिर मिलूंगी तब तक के लिए आपकी दोस्त शालू वर्मा को दीजिए इजाजत। नमस्कार।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *